- Sponsored -

- Sponsored -

जीवामृत बनाने की विधि के बारे मे

जीवामृत बनाने की विधि के बारे मे

0 3,082
जीवामृत बनाने की विधि के बारे मे  –

- Sponsored -

आवश्यक समाग्री –
1. एक ड्राम -100 ली का होना चाहिए
2. पानी की मात्रा-100 लीटर
3. गाय का ताजा गोबर -05 किलोग्राम
4. गाय की पेसाब -05 लीटर
5. गुड की मात्रा-100 ग्राम
6. बेसन की मात्रा-500 ग्राम चना, अरहर, उरद, मटर इत्यादि का खराब/ सडा़ बेसन
7.उच्च स्थान की मिट्टी -1 केजी दलहनी फसल ली गयी खेत की मिट्टी
 जीवामृत बनाने की विधि -1. सर्वप्रथम ड्राम को छायादार स्थान पर उसको अच्छे से रखेगे | उसके बाद हम अच्छी प्रकार से गाय के ताजे गोबर को बाल्टी मे डालकर पानी मे अच्छे से मिलकर डालेगे | उसके साथ ये जरूर देखना है कि नही गोबर मे दाने नही रहने चाहिए|
2. उसके बाद बेसन को अच्छी तरह पानी डालकर तैयार करते | जिस प्रकार पकौड़ी बनाने के लिए तैयार करते है दाना एवं गोटा नही बनना चाहिए| इसके बाद ड्राम मे  तैयार करके डालते है
3. गुड का शरबत बनाकर डाल देते है|
4. मिट्टी को पाउडर जैसा बनाकर मिट्टी को मिला देते है |
5. इसके बाद गाय का पेशाब को मिलाकर  इसके बाद ड्राम मे पानी से भर देते है |
6. 8 दिन तक सुबह शाम घडी के विपरीत दिशा मे चलाना चाहिए |
7 . इस तरह हमारा जीवामृत बन कर तैयार हो जाना है  यह आधा एकड़ जमीन के लिए पर्याप्त होता है
उपयोग – इसका उपयोग धान, गेहूं, सब्जी सभी फसल मे किया जा सकता है |  15-15 दिन के अन्तराल पर   छिडकाव , सिंचाई नाली मे डालकर  इत्यादि प्रकार से उपयोग करते है |

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply

Your email address will not be published.