- Sponsored -

- Sponsored -

ई किसान भवन के छत पर कि गयी सब्जी कि खेती

किचेन गार्डन बना कर करते हैं जैविक सब्जी की खेती।सहायक तकनीकी प्रबन्धक सतीश सिंह

0 453

बहरिया प्रखंड के कृषि विभाग के पदाधिकारी सहायक तकनीकी प्रबन्धक सतीश सिंह ने ई किसान भवन के छत पर किचेन गार्डन बना कर हर मौसम मे जैविक सब्जी की खेती करते हैं।इस समय इन्होंने भिण्डी,करैला,नेनुआ,लौकी कोहड़ा,तरोई खीरा आदि सब्जी लगाए हुए हैं। सतीश सिंह अपने किचन गार्डन में बेस्ट डी कम्पोज़र,नीम का पानी,कण्डी का पानी,गौ मुत्र , लहसून ,मिर्च ,हल्दी आदि का प्रयोग खाद और किटनाशक बनाकर प्रयोग करते हैं।साथ मे किचेन का अपविष्ट पदार्थ जैसे धोये हुऐ चावल, सब्जी, दाल का पानी व सब्जी का छिलका आदि का भी खाद के रूप मे प्रयोग करते हैं। सहायक तकनीकी प्रबन्धक सतीश सिंह ने बताया कि जिन किसान भाइयों के पास जमीन नही है।या घोपडास कि समस्या है।या खेत दूर है।या महिला को सब्जी की खेती करना है।तो वह अपने घर के छत के ऊपर आसानी से कर सकते हैं।इसके लिए पालिथीन, बोरी, कैरेट, ड्रम आदि सामान में तीन हिस्सा सडा गोबर कि खाद या जैविक खाद या बर्मी कम्पोस्ट,और एक हिस्सा मिट्टी मिलाकर डालकर तैयार कर लेते हैं।फिर उसमें कोई भी सब्जी उगा सकते है।छत पर लगे सब्जी की खेती हर समय आप के निगरानी मे रहेगी

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply

Your email address will not be published.