- Sponsored -

- Sponsored -

बेहद उग्र चक्रवाती तूफान ‘तौकते‘: गुजरात एवं दीव तटों के लिए (रेड अलर्ट)

185 किमी प्रति घंटे होने के साथ बेहद उग्र चक्रवाती तूफान तौकते (रेड अलर्ट)

0 634

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के अनुसार,(जारी करने का समय: 0415 बजे, भारतीय मानक समय, दिनांक: 17.05.2021 भारत मौसम विज्ञान विभाग) पूर्व मध्य अरब सागर के ऊपर बेहद उग्र चक्रवाती तूफान ‘तौकते’पिछले 06 घंटों के दौरान लगभग 18 किमी प्रति घंटे की गति से लगभग उत्तर दिशा की ओर बढ़ा तथा 17 मई,2021 को भारतीय मानक समय 0230 बजे 18.09 डिग्री उत्तर के अक्षांश तथा 71.7डिग्री पूर्व के देशांतर के निकट, पणजीम-गोवा से लगभग 360 किमी उत्तर उत्तर पश्चिम, मुंबई  के 170 किमी दक्षिण दक्षिण पश्चिम, विरावल, (गुजरात) के 350 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व, दीव के 310 किमी दक्षिण दक्षिण पूर्व तथा कराची (पाकिस्तान) के 900 किमी दक्षिण दक्षिण पूर्व में केंद्रित रहा।

इसके उत्तर उत्तर पश्चिम बढ़नेतथा 17 मई की शाम में गुजरात तट पर पहुंचने तथा अधिकतम निरंतर सतह हवा की गति के 155-165 किमी प्रति घंटे से बढ़कर 185 किमी प्रति घंटे होने के साथ बेहद उग्र चक्रवाती तूफान के रूप में 18 मई की सुबह के दौरान पोरबंदर एवं महुवा (भावनगर जिला) के बीच गुजरात तट से गुजरने का अनुमानहै।

- Sponsored -

पूर्वानुमान ट्रैक और तीव्रता का विवरण नीचे टेबल में दिया गया है-

टेबल

तिथि/समय ( भारतीय मानक समय) स्थिति ( अक्षांश डिग्री उत्तर/ देशांतर डिग्री पूर्व) अधिकतम निरंतर सतह हवा की गति (किमी प्रतिघंटे) चक्रवाती विक्षोभ का वर्ग
17.05.21/0230 18.0/71.7 150-160 से बढ़कर

175

बहुत उग्र चक्रवाती तूफान
17.05.21/0530 18.2/71.4 155-165 से बढ़कर

185

बहुत उग्र चक्रवाती तूफान
17.05.21/1130 19.0/71.0 155-165 से बढ़कर

185

बहुत उग्र चक्रवाती तूफान
17.05.21/1730 19.7/70.9 155-165 से बढ़कर

185

बहुत उग्र चक्रवाती तूफान
17.05.21/2330 20.5/70.9 155-165 से बढ़कर

185

बहुत उग्र चक्रवाती तूफान
18.05.21/1130 21.8/71.1 100-110 से बढ़कर

120

उग्र चक्रवाती तूफान
18.05.21/2330 23.4/71.7 50-60 से बढ़कर

70

गहरा विक्षोभ
19.05.21/1130 24.9/72.4 30-40 से बढ़कर

50

विक्षोभ

चेतावनी

(i)    वर्षा:

  • केरल:17मई को कई स्थानों पर हल्की से मध्यम तथा अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा होने का अनुमान है।
  • दक्षिण कोंकण एवं गोवा:17 मई को दक्षिण कोंकण एवं गोवा तथा समीपवर्ती घाट क्षेत्रों में अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा तथा कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने का अनुमान है।
  • उत्तर कोंकण:17 मई को अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा तथा कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने का अनुमान है।
  • गुजरात: 17 मई की दोपहर से सौराष्ट्र के तटीय जिलों के ऊपर कई स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा शुरू होने का तथा सौराष्ट्र एवं कच्छ तथा दीव तथा सर्वाधिक दक्षिण गुजरात क्षेत्रों के ऊपर अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा और छिटपुट स्थानों पर 17 को अत्यधिक भारी वर्षा और 18 मई को सौराष्ट्र एवं कच्छ तथा दीव तथा दक्षिण गुजरात क्षेत्रों के ऊपर अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा तथा अलग अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा (≥ 20 सेमी)  होने का अनुमान है।
  • राजस्थान:18 मई को दक्षिण राजस्थान के ऊपर तथा 19 मई को राजस्थान के ऊपर कई स्थानों पर हल्की से मध्यम तथा अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा तथा अत्यधिक भारी वर्षा होने का अनुमान है।

(ii)    हवा की चेतावनी

  • पूर्व मध्य अरब सागर के ऊपर 150-160 किमी प्रति घंटे तथा और बढ़कर 175 किमी प्रति घंटे तक पहुंचने वाली प्रचंड वायु व्याप्त है। 17 मई की दोपहर से पूर्व मध्य अरब सागर के ऊपर इसके और बढ़कर 155-165 किमी प्रति घंटे तथा  185 किमी प्रति घंटे तक पहुंचने की आशंका है।
  • अगले 12 घंटों के दौरान दक्षिण महाराष्ट्र, गोवा तथा समीपवर्ती कर्नाटक तटों के साथ आंधी के 60-70 किमी प्रति घंटे तथा और बढ़कर 80 किमी प्रति घंटे,  उत्तरी महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्र के निकट तेज हवा के 50-60 किमी प्रति घंटे तथा और बढ़कर 70 किमी प्रति घंटे की गति से बहने का अनुमान है। 17 मई की सुबह से लेकर 18 मई की सुबह तक उत्तरी महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्र के निकट इसमें और तेजी आकर इसके 65-75 किमी प्रति घंटे तथा और बढ़कर 85 किमी प्रति घंटे की गति से बहने का अनुमान है।
  • उत्तर पूर्व अरब सागर तथा दक्षिण गुजरात एवं दमन तथा दीव के तटीय क्षेत्रों के ऊपर तेज हवा के 60-70 किमी प्रति घंटे तथा और बढ़कर 80 किमी प्रति घंटे की गति से बहने का अनुमान है। धीरे-धीरे इसके और तेज होकर उत्तर पूर्व अरब सागर तथा गुजरात के तटीय क्षेत्रों (पोरबंदर, जूनागढ़, गिर सोमनाथ, अमरेली, भावनगर) में 155-165 किमी प्रति घंटे तथा और बढ़कर 185 किमी प्रति घंटे तक पहुंच जाने का अनुमान है तथा भरुच, आणंद, दक्षिण अहमदाबाद, बोटाड में 120-140 किमी प्रति घंटे तथा और बढ़कर 165 किमी प्रति घंटे की गति,18 मई के सुबह के समय गुजरात की देवभूमि द्वारका, जामनगर, राजकोट, मोरबी, खेडा जिलों के ऊपर 90-100 किमी प्रति घंटे तथा और बढ़कर 120 किमी प्रति घंटे की गति से बहने का अनुमान है।17 मई की आधी रात से 18 मई की सुबह से तक दादर, नागर हवेली, दमन, वालसाड, नवसारी, सूरत, सुरेन्द्रनगर जिलों में आंधी वाली हवा के 70-90 किमी प्रति घंटे तथा और बढ़कर 100 किमी प्रति घंटे की गति से बहने का अनुमान है।

(iii)   समुद्र की स्थिति

  • 17 मई की आधी रात से 18 मई की दोपहर तक पूर्व मध्य अरब सागर में उग्र से बहुत अधिक उग्र तथा उत्तर पूर्व अरब सागर में बहुत उग्र से अत्यधिक उग्र होने का अनुमान है और बाद में धीर-धीरे इसमें सुधार आएगा।
  • अगले 12 घंटों के दौरान दक्षिणी महाराष्ट्र-गोवा तटों के निकट तथा 17 मई की सुबह उत्तरी महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्रों में समुद्र की स्थिति बहुत उग्र से अत्यधिक उग्र बनी रहेगी। इसके 17 मई की सुबह से दक्षिणी गुजरात तटों के निकट बहुत उग्र से ऊंची रहने तथा 17 मई की मध्य रात्रि से 18 मई की दोपहर तक बहुत उग्र से अत्यधिक उग्र बनी रहने और इसके बाद धीरे-धीरे इसमें सुधार आने का अनुमान है।

(iv)   तूफान बढ़ने की चेतावनी

  • खगोलीय ज्वार से ऊपर ज्वार की लहरों से द तटीय क्षेत्रों के जलमग्न हो जाने का अनुमान है जिसका विवरण नीचे दिया गया है:

अमरेली, गिर सोमनाथ, दीव, भावनगर में लगभग 3 मीटर ऊंची लहर आने, भरुच, आणंद, दक्षिण अहमदाबाद में लगभग 2-3 मीटर ऊंची लहर आने, सूरत, नवसारी, बलसाड में 1-2 मीटर ऊंची लहर आने, अहमदाबाद, आणंद, सूरत के तटीय क्षेत्रों के जलमग्न होने की आशंका है तथा वर्षा के जमीन से टकराने के दौरान गुजरात के शेष तटीय जिलों में 0.5-1 मीटर ऊंची लहर आने का अनुमान है। ( विवरण संलग्नक-1 में दिया गया है)।

(v)   मछुआरों को चेतावनी

  • पूर्व मध्य अरब सागर में 18 मई तक मछली से संबंधित समस्त प्रचालनों को पूरी तरह स्थगित कर दिया गया है।
  • 17 मई से पूर्व मध्य अरब सागर तथा गुजरात के तटीय क्षेत्रों में मछली से संबंधित समस्त प्रचालनों को पूरी तरह स्थगित कर दिया गया है।
  • मछुआरों को उत्तर पूर्व अरब सागर तथा कर्नाटक के तटों पर 17 मई की सुबह तक और 18 मई तक पूर्व मध्य अरब सागर तथा कर्नाटक, गोवा के तटीय क्षेत्रों और उत्तर पूर्व अरब सागर तथा गुजरात के तटीय क्षेत्रों में नहीं जाने का सुझाव दिया गया है।
  • जो लोग उत्तरी अरब सागर में समुद्र में गए हुए हैं उन्हें तट पर लौट आने का सुझाव दिया गया है।

(vi) (क) गुजरात के पोरबंदर,अमरेली,जूनागढ़, गिर सोमनाथ,बोटाड और भावनगर तथा अहमदाबाद के तटीय क्षेत्रों में नुकसान की आशंका:

  • फूस के घर पूरी तरह ध्वस्त कच्चे मकानों को व्यापक नुकसान। पक्के घरों को कुछ नुकसान। उड़ने वाली चीजों से संभावित खतरा।
  • बिजली तथा संचार के खंभे मुड़ सकते हैं, उखड़ सकते हैं
  • कच्ची एवं पक्की सड़कों को बड़ा नुकसान,आने-जाने के रास्तों पर बाढ़, रेलवे, ओवरहेड पावर लाइनों तथा सिग्निलिंग सिस्टमों को हल्के नुकसान।
  • साल्ट पैन्स तथा खड़ी फसलों को व्यापक नुकसान, झाड़ी वाले पेड़ों के उखड़ने की आशंका।
  • छोटी नौकाएं, कंट्री क्राफ्ट मूरिंग्स से अलग हो सकते हैं।
  • दृश्यता गंभीर रूप से प्रभावित

(vi)  (ख) देवभूमि द्वारका, कच्छजामनगरराजकोट तथा मोरबी, वालसाडसूरतवडोदराभरुचनवसारीआणंदखेडा तथा अहमदाबाद जिलों के आंतरिक हिस्सों में अनुमानित नुकसान:

  • फूस के घरों,झोपड़ियों को भारी नुकसान। घर की छतें उड़ सकती हैं। बिना जुड़ी हुई धातु की चादरें उड़ सकती हैं।
  • बिजली तथा संचार के खंभों को थोड़ा नुकसान
  • कच्ची सड़कों को बड़ा नुकसान एवं पक्की सड़कों को कुछ नुकसान। निकलने के रास्तों पर बाढ़।
  • पेंड़ों की शाखाओं का टूटना, बड़े ऐवेन्यू पेड़ों का उखड़ना, केले एवं पपीते के पेड़ को मामूली नुकसान, बड़ी सूखी टहनियां पेंड़ से उखड़ सकती हैं।
  • तटीय फसलों को नुकसान
  • बांधों/साल्ट पैन्स को नुकसान

(vii) सुझाए गए कदम

  • संवेदनशील क्षेत्रों से निकासी पर जोर
  • मछली प्रचालनों को पूरी तरह स्थगित कर देना
  • रेल एवं सड़क यातायात का विवेकपूर्ण विनिमयन
  • प्रभावित क्षेत्रों में लोग अपने घरों में रहें
  • मोटर बोट तथा छोटी नौकाओं में आवाजाही असुरक्षित

ग्राफ  में विवरण के लिए कृपया यहां क्लिक करें

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply

Your email address will not be published.